Share bechne par kitna tax lagta hai 2024: जानिए कितना देना पड़ेगा शेयर को बेचने पर ! 

Share bechne par kitna tax lagta hai: इस पोस्ट में आप जानेंगे कि शेयर बेचने पर कितना टैक्स लगता है, शेयर ट्रेडिंग पर आप कितना टैक्स चुकाते हैं, क्या शेयर बाजार मुनाफा कर मुक्त है और शेयर खरीदने और बेचने पर कितना टैक्स लगता है?तो अगर आप भी (Share Market income tax in hindi) के बारे में विस्तार से उदाहरण के साथ जानना चाहते हैं तो इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ना। 

Share bechne par kitna tax lagta hai | स्टॉक बेचने पर कितना टैक्स लगता है?

Share bechne par kitna tax lagta hai: स्टॉक बेचने पर आपको उस शेयर से होने वाली कमाई पर कई तरह के टैक्स चुकाने पड़ते हैं।पहला अल्पकालिक पूंजीगत लाभ कर है जिस पर 15.6% की दर से कर लगाया जाता है और 1 वर्ष से पहले स्टॉक बेचने पर भुगतान किया जाना चाहिए, दूसरा दीर्घकालिक पूंजीगत लाभ कर है जिस पर 10.4% की दर से कर लगाया जाता है।1 वर्ष के बाद खरीदी गई कमाई।

Share Market Income Tax in Hindi – Example

शेयर मार्केट इनकम पर कितना टैक्स लगता है यह समझाने के लिए नीचे हमने आपको एक उदाहरण दिया है जिसके जरिए आप बहुत अच्छे से समझ जाएंगे कि शेयर मार्केट से कमाई पर कितना टैक्स देना पड़ता है―

उदाहरण के लिए–

मान लो आज आप 1 लाख रुपये के शेयर खरीदते हैं और 1 साल बाद आपको उन पर 20% प्रॉफिट होता है मतलब 1 साल बाद और शेयर की वैल्यू बढ़कर 1,20,000 रुपये हो जाएगी मतलब आपको 20000 रुपये प्रॉफिट होगा.तो ऐसे में अगर आप 1 साल बाद शेयर बेचते हैं तो आपको इस प्रॉफिट पर लोंग टर्म कैपिटल गेन टैक्स (10.4%) देना पड़ता है.

मतलब अब आपको 20000 Rs का 10.4% यानी 2080 रुपये LTCG यानी Long term capital gain टैक्स के रूप में देना होगा इस प्रकार 1 साल बाद शेयर बेचने पर आपको (1 लाख + 20000 – 2080) = 117920 रुपये मिलेंगे.

लेकिन अगर आप यही शेयर 1 साल से पहले बेचते हैं तो आपको 15.6% STCG यानी Long term capital gain टैक्स देना होगा जो प्रॉफिट का 15.6% यानी 3120 Rs होता है इस प्रकार 1 साल से पहले शेयर बेचने पर आपको  (1 लाख + 20000 – 3120) = 116880 रुपये मिलेंगे.

Share bechne par kitna tax lagta hai

एक शेयर बेचने पर कितना चार्ज लगता है?

एक शेयर खरीदने और बेचने पर 20 रुपये ब्रोकरेज चार्ज लगता है मतलब अगर आप एक शेयर को खरीदते और बेचते हैं तो उस पर आपको 40 रुपये का ब्रोकरेज चार्ज लगता है। इसके अलावा जीएसटी, स्टांप ड्यूटी, सेबी चार्ज जैसे छोटे मोटे टैक्स और चार्जेस भी देने पड़ते हैं।

शेयर मार्केट इनकम पर आप कितना टैक्स देते हैं?

शेयर मार्केट की इनकम पर आपको 10.4% का LTCG और 15.6% की दर से STCG टैक्स लगता है। मतलब अगर आप शेयर बाजार से कमाई करते हैं तो आपको लोंग टर्म कैपिटल गेन और शॉर्ट टर्म कैपिटल गेन यह दो प्रकार के टैक्स देने पड़ते हैं।

शेयर बेचने में कितना टैक्स लगता है?

1. Long term capital gain tax क्या होता है? 

किसी शेयर को हम 1 वर्ष से ज्यादा समय के लिए होल्ड करते हैं, तत्पश्चात 1 वर्ष बाद उसको बेचने से जो मुनाफा मिलता है, उस मुनाफे पर लगने वाले टैक्स को लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन टैक्स कहते हैं।

Long term capital gain में कितना टैक्स लगता है?

इसमें किसी शेयर को बेचकर हम जो मुनाफा कमाते हैं, उसमें एक लाख तक के मुनाफे में कोई टैक्स नहीं लगता है। एक लाख से ऊपर के मुनाफे में 10% टैक्स देना पड़ता है।

  • उदाहरणतः अगर हम कोई शेयर 1 वर्ष बाद बेचते हैं उसमें हमें 3 लाख मुनाफा होता है तो हम निम्न प्रकार टैक्स देंगे-
  • 3 लाख – 1लाख ( 1लाख तक के मुनाफे में टैक्स छूट) = 2 लाख
  • 2 लाख का 10% = 20000
  • इस तरह इसमें हमको रू20000 टैक्स देना होगा।
Share bechne par kitna tax lagta hai

शेयर मार्केट में नुकसान में कितना टैक्स लगता है?

अगर किसी शेयर को 1 वर्ष तक होल्ड करते हैं, तत्पश्चात उसको नुकसान में बेचते हैं तो हमें उसमें जो भी नुकसान होगा उसको हम आईटीआर में दर्शायेंगे। जो कि 8 वर्षों तक एडजस्ट होगा। अर्थात अगले वर्ष से 8 वर्ष तक जो मुनाफा होगा, उसमें नुकसान को घटाकर टैक्स देना होगा।

  • उदाहरणतः माना इस वर्ष एक लाख का नुकसान हुआ तथा अगले वर्ष हमको 3 लाख मुनाफा होता है तो टैक्स कैलकुलेशन निम्न प्रकार होगा-
  • 3 लाख – 1लाख ( 1लाख तक के मुनाफे में टैक्स छूट) = 2 लाख
  • 2 लाख – 1लाख ( पिछले वर्ष का नुकसान) = 1लाख
  • 1लाख का 10% = 10000 (टैक्स देना होगा)

2. Short term capital gain tax क्या होता है?

जब किसी शेयर को 1 दिन से लेकर 1 वर्ष के भीतर तक होल्ड करके बेच दिया जाता है, तो उसके मुनाफे में लगने वाले टैक्स को शॉर्ट टर्म कैपिटल गैन टैक्स कहते हैं।

Short term capital gain में कितना टैक्स लगता है?

इसमें 1 दिन से लेकर 1 वर्ष के भीतर जो भी शेयर बेचकर जो भी मुनाफा कमाते हैं उस मुनाफे पर हमको 15% टैक्स देना होता है।

उदाहरणतः किसी शेयर को बेचकर हम  हमें दो लाख रूपए का मुनाफा होता है, तो उसमें हमको दो लाख का 15% =  30000 रूपए टैक्स देना होगा।

शॉर्ट टर्म में नुकसान होने पर टैक्स कैसे देना होता है?

शॉर्ट टर्म में जो भी नुकसान होता है, उस नुकसान को लॉन्ग टर्म कैपिटल में होने वाले नुकसान की तरह ही 8 वर्षों तक एडजस्ट किया जाता है।

3. इंट्राडे में कितना टैक्स लगता है? How much tax is applicable in intraday?

इंट्राडे में हम शेयर को एक ही दिन में खरीदे तथा बेचते हैं, इसको हमारा बिज़नस माना जाता है। इसके अंतर्गत हम जो भी मुनाफा कमाते हैं,  उस मुनाफे को हमारी बिजनेस की आय या वेतन आय मे जोड़ कर सामान्य इनकम टैक्स नियम के अनुसार टैक्स भरा जाता है। आय के अनुसार हम इनकम टैक्स की जिस भी स्लैब में आते हैं उस स्लैब के अनुसार टैक्स देना पड़ता है।

उदाहरणतः  माना कि हमारी बिजनेस की आए 4 लाख रूपए है तथा इंट्राडे में हमारा मुनाफा 1,50,000 है। अब हमारी कुल आय 5,50,000 रूपए हो जाएगी । अब इस आय में हमको इनकम टैक्स के स्लैब नियम के हिसाब से टैक्स देना पड़ेगा।

इंट्राडे के नुकसान पर टैक्स कैसे देते हैं?

इंट्राडे में हमें जो भी नुकसान होता है उस नुकसान को हम 4 वर्षों तक एडजेस्ट कर सकते हैं। हमें वर्तमान वित्तीय वर्ष में जो भी नुकसान होगा, अगले वर्ष के मुनाफे में उसको घटाने के उपरांत ही टैक्स दिया जाएगा।

निष्कर्ष

हम आशा करते हैं कि आपको हमारा ये लेख पसंद आया होगा। हमने अपने इस लेख में Share Market Income Tax से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी देने कि कोशिश की है। इससे जुड़े कोई अन्य प्रश्न हो तो हमे कॉमेंट बॉक्स में जरूर पूछे। धन्यवाद ! 

Financenewscircle Home Page

Leave a Comment